Cranberry in Hindi – क्रैनबेरी (Cranberry) जिसको हिंदी में (Cranberry called in hindi) करौंदा भी कहते हैं. इसका वैज्ञानिक नाम वैक्सीनियम मैक्रोकारन (Vaccinium Macrocarpon) हैं। करौंदे का पेड़ मुख्य रूप से पहाड़ी क्षेत्र में ज्यादा होता हैं. इसका पेड़ कटीला झाड़ की तरह होता हैं. इसका पेड़ 5 से 6 फिट तक ऊंचा होता है। करौंदा का फल (cranberry fruit) आकार में बहुत छोटा होता हैं जिसका रंग गहरा गुलाबी और खाने में खट्टा मीठा होता हैं। इसकी तासीर गरम होती हैं।

करौंदा में विटामिन C व एंटी-ऑक्सीडेंट पर्याप्त मात्रा में होता हैं। करौंदा एक बहुत ही स्वास्थ्यवर्धक फल हैं जिसका अचार, मुरब्बा, चटनी व जूस निकालकर उपयोग में लाया जाता हैं.

करौंदा के फायदे – Cranberry Benefits in Hindi

करौंदे का फल औषधीय गुणों से भरपूर होता हैं, जिसमें साइट्रिक एसिड एवं विटामिन C भरपूर मात्रा में पाया जाता है. इसमें बहुत सारी सामान्य बीमारियों को दूर करने की क्षमता होती हैं. इसका फल ही नहीं बल्कि करौंदा की पत्तिया, छाल व करौंदे का जूस भी प्रयोग में लाया जाता हैं. इसे “Super Food” के नाम से भी जाना जाता है. इसका उपयोग भूख बढ़ाने, मूत्र पथ में संक्रमण का खतरा, रक्तचाप की कमी, कैंसर की रोकथाम जैसी बीमारियों का उपचार करने में किया जाता हैं।

करौंदा मुंह व दांतो की बीमारियों को भगाए दूर- Cranberry use for Mouth and Teeth disease

करौंदा में पाया जाने वाला प्रोएंथोसायनिडिन इन्फेक्शन से तो बचाव करता ही हैं साथ ही यह तत्व मसूड़ों व मुख की समस्याओं को भी दूर करने में मदद करता हैं. इसके उपयोग चाहे आप चटनी के रूप में या करौंदा का जूस बनाकर पीते हैं तो आपके दांतो में सड़न नहीं होती हैं साथ ही मुंह से आने वाली दुर्गंध को भी रोकता हैं.

करौंदा कैंसर के इलाज में फायदेमंद- Cranberry use for Cancer disease

करौंदे में पोलीफिनोल नामक कम्पाउण्ड पाया जाता हैं जो ट्यूमर के बढ़ने को रोकने में मदद करता हैं, साथ ही इसका नियमित सेवन करने से स्तन कैंसर, ओवेरियन कैंसर, लिवर कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर को फैलने से रोकने में फायदा करता हैं।

करौंदा का उपयोग यूरिन इन्फेक्शन के लिए- Cranberry use for Urine infection

करौंदा का उपयोग यूरिन इन्फेक्शन (मूत्र मार्ग संक्रमण) को रोकने में बहुत फायदेमंद होता है. इसमें पाया जाने वाला प्रोएथोकेनिडिन यूरिन मार्ग की में बैक्टीरिया को कम करता हैं. तो इस प्रकार करौंदा व उसके जूस का सेवन यूरिन इन्फेक्शन के लिए भी फायदेमंद होता हैं.

करौंदा का उपयोग हृदय को स्वस्थ रखने के लिए- Cranberry use for Heart disease

करौंदा का सेवन दिल के रोंगो से बचाने में भी मदद करता हैं. यह कोलेस्ट्राल के स्तर को कम कर हृदय से जुड़े रोगों से बचाव करता हैं. करौंदे का जूस (cranberry juice benefits in hindi) का सेवन हृदय सम्बन्धी बीमारियों का खतरा 10 फीसदी तक कम करता हैं.

करौंदा का उपयोग त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए- Cranberry use for Skin Problems

करौंदा का उपयोग त्वचा को पोषक तत्व प्रदान करने में सहायता करता हैं जिससे त्वचा कोमल हो जाती है. इसके लिए आपको दो चम्मच ड्राई करौंदा, एक चौथाई कप शहद व एक चौथाई चम्मच क्रैनबेरी तेल को मिलाकर उसका मित्रण बना लेना हैं और करीब 10 मिनट के बाद त्वचा पर लगा लेना हैं. इसके बाद इसे अच्छे से धो लें. आपकी त्वचा में निखार आएगा.

करौंदा से होने वाले नुकसान-  Karonda Ke Nuksan Hindi Me

करौंदा का अधिक सेवन दांतो की इनेमल की नुकसान पहुंचता हैं।

करौंदा लेने की सुरक्षा के बारे में पर्याप्त विश्वसनीय जानकारी नहीं हैं तो गर्भवती या स्तनपान कराने वाली महिलाएं इसका सेवन करने से वचें।

करौंदा में सिलिसीलिक एसिड की पर्याप्त मात्रा होती हैं जो एस्परीन के समान होती हैं. यदि आपको इससे एलर्जी हैं तो करौंदा के रस का सेवन करने से बचें।

यदि आप हृदय रोग से सम्बन्धित दवाईंया लेते हैं तो करौंदे का सेवन करने से बचें. क्योंकि यह आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता हैं।

आपको करौंदा के बारे में दी गयी जानकारी_ cranberry in hindi पसंद आयी होगी. यदि आपके पास करौंदा से सम्बन्धित कोई सुझाव या राय हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं.