उल्टी आने के कारण और रोकने के घरेलू उपाय

0
96
views

Vomiting ke Karan and Gharelu upay : उल्टी एक बहुत ही गंभीर समस्या नहीं है, ये एक कॉमन समस्या है। खान-पान का सही न होना, पेट में कीड़े होना, नशीले पदार्थों का सेवन आदि कारणों से भी उल्टी आती हैं। कई बार हमारे शरीर में कुछ बदलाव या अनावश्यक पदार्थ पेट में अधिक मात्रा में एकत्रित होने के कारण भी उल्टी(Vomiting) होती है या केवल महसूस होता है। यदि अधिक उल्टियां होती है तो रोगी के शरीर में इससे पानी की कमी होने के कारण कमजोरी आ जाती है।

उल्टी (Vomiting) के कारण-

  • ज्यादा भोजन करना।
  • पेट में गैस बन जाना।
  • शराब ज्यादा पी लेने कारण।
  • पाचन क्रिया सही से न होने के कारण भी उल्टी आती हैं।
  • शरीर में कमजोरी के कारण।
  • गर्भावस्था के दौरान भी कई स्त्रियों को उल्टियां आती हैं।
  • खाली पेट रहना।
  • यात्रा करने से
  • किसी प्रकार का बिषैला भोजन करने से

उल्टी(Vomit) को रोकने के घरेलू उपाय-

खूनी उल्टी आने पर क्या करें –

  • केला-यदि किसी को भी खूनी उल्टियां आ रहीं है तो केला खाने से खूनी उल्टी होना बंद हो जाता है।
  • फूल गोभी– फूल गोभी में क्षारीय तत्व होते हैं, यह रक्त शोधक है। खूनी उल्टी आने पर इसकी सब्जी खाने से या कच्ची ही खाने सा आराम मिलता है।

सामान्य उल्टियां आने पर क्या करें-

पिस्ता – यदि आपका जी मचला रहा है या उल्टियां हो रहीं है तो 4 पिस्ता खा लीजिए उल्टियां ठीक हो जायेंगी।

अदरक– अदरक हमारे पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। अदरक उल्टियां रोकने में बहुत गुणकारी है।

  • एक चम्मच नीबू का रस उसमें थोड़ा सेंधा नमक व जरा सी काली मिर्च का पाउडर बुरक लें और इसे चाट लें उल्टियां बंद हो जायेंगी। यदि फिर भी उल्टी न रूके तो एक चम्मच अदरक का रस, एक चम्मच प्याज का रस व एक चम्मच पानी मिलाकर पीने से उल्टियां बंद हो जायेंगी।

पोदीना-उल्टी आने पर आधे कप पोदीने के रस को प्रत्येक घंटे पिएं आप चाहे तो इसमें नीबू भी मिला सकते हैं। इसके साथ ही पोदीना और हरे धनिया की चटनी खाने से भी आराम मिलता है।

शहद- प्याज के रस में शहद मिलाकर चाटने से उल्टियां बन्द हो जाती हैं।

तुलसी-शहद और तुलसी की पत्तियों का रस मिलाकर इसे चाटने से उल्टियां बन्द हो जाती हैं।

नीम- करीब 25 ग्राम नीम के पत्ते पीसकर और 125 ग्राम पानी में छानकर पीने से सभी तरह की उल्टियां ठीक हो जाती हैं।

दालचीनी- यदि पित्त की उल्टी हो तो दालचीनी पीस कर शहद में मिलाकर चाटने से ठीक हो जाती हैं।

गर्भावस्था के दौरान उल्टी आने पर क्या करें-

चावल- 50 ग्राम चावल, 250 ग्राम पानी में भिगो दें, करीब आधा घंटा बाद उसमें 5 ग्राम धनिया भी डाल दें। इसे करीब 10-15 मिनट बाद मसलकर छान लें। इसको बराबर-बराबर मात्रा में बांटकर 4 बार पिलाने से उल्टियां बंद हो जायेंगी।

लौंग- गर्भावस्था के दौरान उल्टी आने पर दो लौंग पीसकर शहद के साथ पीड़िता को चटाने से आराम मिलता है। लौंग को सेककर चूसने से भी उल्टी बन्द हो जाती हैं।

आंबला– गर्भावस्था के दौरान उल्टी आने पर आंवले के मुरब्बे के दो-दो पीस दिन में करीब 3-4 बार खिलाएं। उल्टियां बन्द हो जायेंगी।

चना- यदि गर्भवती को उल्टी हो रही है तो भुने हुए चने का सत्तू खुलाएं आराम मिलेगा।

 

 

Previous articleपेट कम करने की आसान Exercises
Next articleShahi Paneer Recipe – शाही पनीर

नमस्कार मैं Foodandhealths.com की Founder हूं और इस ब्लॉग पर मैं आपको Food Recipes और Healths tips से सम्बन्धित Article पोस्ट करती हूं. यदि आपके पास भी कोई रेसिपी है तो इस Mail [email protected] पर अपनी रेसिपी जरूर भेजें, जिससे मैं आपके नाम सहित रेसिपी को पोस्ट कर सकूं. धन्यबाद

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here